in , ,

पीएम मोदी ने जारी किया बीजेपी का ‘संकल्प पत्र’

बीजेपी का घोषणापत्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह समेत अन्य केंद्रीय मंत्रियों की मौजूदगी में जारी हुआ.

भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव के लिए सोमवार को घोषणापत्र जारी किया. बीजेपी ने इसे ‘संकल्प पत्र’ बताया है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि आजादी की 75वीं वर्षगांठ तक यानी साल 2022 तक के लिए 75 संकल्प लिए हैं.  बीजेपी के घोषणापत्र में विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य है.

बीजेपी के घोषणापत्र में कहा गया है कि ‘राष्ट्रवाद के प्रति हमारी पूरी प्रतिबद्धता है. आतंकवाद के प्रति हमारी जीरो टॉलरेंस की नीति है. भारत में होने वाली अवैध घुसपैठ को रोकने के लिए हम पूरी सख्ती करेंगे. सिटिजनशिप अमेंडमेंट बिल को दोनों सदनों से पास कराएंगे और लागू करेंगे. इससे किसी राज्य की सांस्कृतिक और भाषाई संरचना पर कोई आंच नहीं आने देंगे.’

बीजेपी के घोषणापत्र में वादा किया गया है कि क्रेडिट कार्ड के 1 लाख रुपये तक के लोन पर पांच साल तक कोई ब्याज नहीं देना होगा. 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने का वादा किया गया है. बीजेपी संविधान के दायरे में रहते हुए राम मंदिर निर्माण कराने की पूरी कोशिश करेगी. घोषणापत्र में कहा गया है कि 25 लाख करोड़ रुपये ग्रामीण क्षेत्रों में खर्च होंगे.  बीजेपी ने राष्ट्रीय व्यापार आयोग बनाने का वादा किया है.

बीजेपी ने वादा किया है कि छोटे दुकानदारों को पेंशन देंगे इसके साथ ही 60 वर्ष से अधिक उम्र के किसानों को भी पेंशन देंगे. घोषणापत्र में आर्टिकल 370 और और 35A हटाने का वादा किया गया है. घोषणापत्र में कश्मीरी पंडितों की वापसी, खर्च बचाने के लिए एक देश में एक चुनाव और पांच साल में नक्सलवाद खत्म करने का वादा किया गया है.

बीजेपी ने राष्ट्रीय राजमार्ग बनाने की स्पीड तेज करने, 2024 तक देश भर में 200 हवाई अड्डे बनाने, इंजीनियरिंग कॉलेजों में सीटें बढ़ाने का वादा किया है. बीजेपी ने जमीन के रिकॉर्ड्स का डिजिटिलाइजेशन करने का वादा किया है. बीजेपी ने कहा कि सभी घरों को बिजली, गैस और पीने का साफ पानी देंगे.

बीजेपी ने वादा किया है कि जीएसटी को और सरल किया जाएगा. हर आदमी को पांच किलोमीटर में बैंक की सुविधा मिलेगी. इसके साथ ही सभी बच्चों का टीकाकरण सुनिश्चित किया जाएगा. घोषणा पत्र में कहा गया है कि मुस्लिम महिलाओं के लिए न्याय सुनिश्चित करेंगे.

इस दौरान विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, वित्त मंत्री अरुण जेटली, गृह मंत्री राजनाथ सिह समेत बीजेपी के कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहे. बीजेपी का दावा है कि इस घोषणापत्र के लिए छह करोड़ लोगों की राय ली गई है. बीजेपी का घोषणापत्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह , संसदीय बोर्ड के सदस्यों समेत अन्य केंद्रीय मंत्रियों की मौजूदगी में जारी हुआ.

घोषणापत्र  कमेटी के अध्यक्ष गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारे संकल्पों से करोड़ों देशवासियों की आकांक्षाएं पूरी होंगी. राजनाथ ने कहा कि संकल्प पत्र  को 12 श्रेणियों में बांटा गया है. राजनाथ ने कहा कि इस संकल्प पत्र में जनता के मन की बात है. राजनाथ सिंह ने कहा कि घोषणापत्र बनाने के लिए 6 करोड़ लोगों की राय ली गई है.

घोषणापत्र जारी करने से पहले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि साल 2014 में हमें पूर्ण बहुमत की सरकार मिली थी. मैं आपको 2014 की याद दिला रहा हूं. तब बीजेपी ने गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री को देश के प्रधानमंत्री पद का दावेदार बनाया था. तब हम देश कैसे चलेगा इसका विजन लेकर आपके सामने आए थे. तब हमें सम्मान देते हुए जनता ने हमें ऐतिहासिक सफलता दी थी.

शाह ने कहा कि ‘2014-19 की यात्रा ऐसी है कि जब भी भारत के विकास का और भारत की दुनिया में साख बनने का इतिहास लिखा जाएगा तो ये कार्यकाल स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा. पूर्ण बहुमत हासिल करने के बाद भी हमने NDA की सरकार बनाई. 2014 से 2019 की यात्रा में मोदी जी के नेतृत्व में देश की सुरक्षा को पुख्ता किया. अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाए और दुनिया को संदेश दिया कि भारत को हल्के में न लें.’

शाह ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, ‘साल 2019 में भी पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएंगे.’ उन्होंने कहा, ‘बीते पांच साल में सरकार ने आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देने की नीति बनाई. इसके साथ ही इस दौरान भारत विश्व की छठी अर्थव्यवस्था बनी. हमने पारदर्शी सरकार का उदाहरण दिया.’

शाह ने कहा  कि पांच साल में भारत दुनिया की महाशक्ति बन कर उभरा. देश के लोगों ने इस पांच सालों में खुद को गौरवान्वित महसूस किया. उन्होंने कहा, ‘2014 में भारत की अर्थव्यवस्था 11 वें नंबर पर थी, आज हम दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं और तेजी से 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने के लिए अग्रसर हैं.’

शाह के मुताबिक, ‘आज देश के अधिकांश घरों में बिजली है. 8 करोड़ से ज्यादा शौचालय हैं, 7 करोड़ गरीबों के घर में गैस कनेक्शन दिए गए हैं, 50 करोड़ गरीबों के लिए मुफ्त इलाज सुनिश्चित किया गया है.’

What do you think?

0 points
Upvote Downvote

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

Comments

0 comments

उद्योग नहीं हैं, फिर भी प्रदूषण में अव्वल कैसे हैं शहर

इतिहास के पन्नों पर दर्ज होगा आज का दिन, 24 साल बाद एक मंच पर होंगे मायावती और मुलायम