in , ,

UP बजट सत्र की हंगामेदार शुरुआत, राज्यपाल पर फेंके कागज के गोले

उत्तर प्रदेश के विधानमंडल बजट सत्र में मंगलवार को जमकर हंगामा हुआ। विपक्षी दलों ने बीजेपी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। विधानसभा के बाहर से लेकर अंदर तक हंगामा और प्रदर्शन चलता रहा।

उत्तर प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के पहले दिन समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया। विधानसभा के अंदर राज्यपाल पर कागज के गोले फेंके गए तो विधानसभा के बाहर सांड को लेकर प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के दौरान एसपी के एक विधायक बेहोश हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।

योगी सरकार का तीसरा बजट सत्र 22 फरवरी तक चलना प्रस्तावित है। मंगलवार को शुरू हुए सत्र के पहले दिन जमकर हंगामा हुआ। एसपी के नेता विधानसभा के बाहर पहुंचे। इस दौरान उनके साथ एक सांड भी था। उन्होंने अपने प्रदर्शन में सांड को आगे खड़ा किया और हाथों में तख्तियां लेकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। इन तख्तियों पर लिखा था- सांड और किसान दोनों परेशान।

सदन में उछाले कागज के गोले
बजट सत्र की कार्यवाही की शुरुआत करते हुए राज्यपाल राम नाईक अभिभाषण देने पहुंचे। इस दौरान विपक्षी सदस्यों ने उनकी ओर कागज के गोले उछाले और नारेबाजी की। राज्यपाल ने लगभग 11 बजे सदन में जैसे ही अभिभाषण पढ़ना शुरू किया, विपक्षी सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया। उन्होंने ‘राज्यपाल वापस जाओ’ के नारे लगाए और नाईक की तरफ कागज के गोले फेंके। हालांकि राज्यपाल की ओर फेंके गए कागज के गोले उन तक नहीं पहुंच सके और सुरक्षाकर्मियों ने फाइल कवर के सहारे उन्हें रोक लिया। विपक्षी सदस्यों के लगातार शोरगुल के बीच राज्यपाल ने अभिभाषण पढ़ना जारी रखा और प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं और उपलब्धियों के बारे में सिलसिलेवार ब्यौरा पेश किया।

आजम बोले- मुसलमानों से हो रहा गलत सलूक
प्रदर्शन के दौरान विधायकों ने बीजेपी सरकार को जुमले वाली सरकार करार देते हुए पीएम मोदी व सीएम योगी के खिलाफ प्रदर्शन किया। एसपी नेता आजम खान ने कहा कि इस देश में मुसलमानों के साथ गलत सलूक हो रहा है। क्या यही राज है? आजम ने पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के धरने पर भी बयान दिया।

आजम ने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुद उस मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए, वह देश के हर व्यक्ति के प्रधानमंत्री हैं।’ उन्होंने कहा कि इलाहाबाद में कुंभ नहीं बल्कि तमाशा हो रहा है। आने वाले समय में वहां रैलियां व सम्मेलन करने के लिए इस सरकार ने दरवाजे खोल दिए हैं। कुंभ को राजनीति का अड्डा बना दिया है।

एसपी विधायक हुए बेहोश
प्रदर्शन के दौरान अचानक एक विधायक बेहोश होकर गिर पड़े। बताया जा रहा है कि विधायक का नाम सुभाष पासी है। वह सैदपुर सीट से समाजवादी पार्टी के विधायक हैं। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

What do you think?

1 point
Upvote Downvote

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

Comments

0 comments

योगी आदित्यनाथ सड़क मार्ग से पश्चिम बंगाल पहुंचे,मंच से लगाया नारा- ‘गर्व से कहो हम हिंदू हैं’

मध्यम दूरी परमाणु शक्ति (आईएनएफ) संधि क्या है?अमेरिका और रूस का अलग होना पूरी दुनिया पर क्याअसर डाल सकता है?